प्रतिदिन इन बातों का रखें ध्यान तो रहेंगे आप एनर्जी से भरें

0 88

LOK PRAN. रोजमर्रा की लगातार व्यस्त होती जिंदगी, बढ़ती दूरियों को नापने के लिए कम से कम समय, बढ़ती अपेक्षाओं और कमजोर सेहत ने जिंदगी को कहीं ज्यादा मुश्किल बना दिया है। इस आपाधापी के बीच अक्सर हम ऊर्जा की कमी महसूस करते हैं। इस कमी की वजह से रोजमर्रा की जिंदगी बुरी तरह प्रभावित हो रही है। शरीर लक्षणों के रूप में अलार्म देता है कि आप जिंदगी सही तरीके से नहीं जी रहे हैं। इस समस्या से निजात पाना कोई मुश्किल काम नहीं है। कुछ बातों का ध्यान रखकर और थोड़े बहुत बदलावों की मदद से आप न सिर्फ अपनी एनर्जी को बेहतर बना सकते हैं बल्कि लंबे समय तक स्वस्थ भी रह सकते हैं।

एनर्जी बूस्टर है ब्रेकफास्ट
सुबह का पहला आहार आपके दिनभर की एनर्जी का बड़ा स्रोत है जिसे हम अक्सर कम अहमियत देते हैं। सर्वे कंपनी ‘हैल्थ एंड हील’ द्वारा की गई एक रिसर्च के दौरान यह बात सामने आयी है कि 72 प्रतिशत लोग अपने ब्रेकफास्ट को लेकर बहुत लापरवाह हैं। वे इसे न के बराबर तवज्जो देते हैं। ‘द न्यू हैल्थ रूल्स’ के लेखक फ्रैंक लिपमैन कहते हैं कि आप अपने ब्रेकफास्ट की सहायता से शरीर व दिमाग दोनों को चुस्त बना सकते हैं। बेहतर नाश्ते के लिए जरूरी है कि आपके सुबह के भोजन में प्रोटीन और फैट के साथ कार्बोहाइड्रेट का संतुलन हो। नारियल पानी, अंकुरित दालें और दूध इसके बेहतर विकल्प हैं।

न हो पानी की कमी 
पानी का भरा हुआ गिलास आपके डेस्क का हिस्सा होना चाहिए। एक व्यक्ति को मौसम के हिसाब से शरीर को पानी की पूर्ति करते रहना चाहिए। इसे जानने का सबसे आसान तरीका आपका यूरीन है। अगर वह ज्यादा पीला आ रहा है तो सावधान हो जाना चाहिए कि आप शरीर को उतना पानी नहीं दे रहे हैं जितनी उसे जरूरत है। रोजाना शरीर को तीन से चार लीटर पानी की जरूरत होती है।

सिट्रिक एसिड
सिट्रिक एसिड खट्टी चीजों में पाया जाता है। नींबू और संतरा इसके बेहतरीन स्रोत हैं। नींबू को अपने सलाद का हिस्सा बनाएं और संतरे या मौसमी का जूस दिन में एक बार लें। नींबू पानी से वजन कम कर सकते हैं क्येांकि यह शरीर में जमी अतिरिक्त वसा को बाहर निकालने का काम करता है।

अंकुरित अनाज की ताकत
अंकुरित अनाज सस्ता व बनाने में आसान होता है। चना, मूंग, गेहूं, सोयाबीन, मेथी आदि को अंकुरित किया जा सकता है। इसमें विटामिन व अन्य पोषक तत्वों की मात्रा काफी ज्यादा होती है जो शरीर को ऊर्जा देने का काम करते हैं। इसे आप सुबह के नाश्ते या स्नैक्स के रूप में ले सकते हैं।

हरा-भरा खाइए 
भोजन में हरे सलाद को जगह दें। इस सलाद में वे सभी पौष्टिक तत्व होते हैं जो ऊर्जा के लिए जरूरी होते हैं। इसमें आयरन के अलावा प्रोटीन अधिक मात्रा में होता है जो पाचनतंत्र को भी मजबूत बनाता है।

एनर्जी का राज बी-12 
विटामिन बी-12 एनर्जी लेवल को भी बेहतर बनाता है। दूध, बादाम, टोफू और सूखे मेवे इस विटामिन काबेहतर स्रोत हैं। इसकी कमी से डायरिया, कब्ज, कमजोरी, थकान जैसी तकलीफें हो सकती हैं।

खाने से डरे नहीं 
दिन में थोड़ा-थोड़ा करके कई बार खाने से ब्लड शुगर लेवल एक जैसा बना रहता है और काफी काम करने के बावजूद भी आप थकान महसूस नहीं करते हैं। इसके लिए सिर्फ आपको अपने स्नैक्स के चयन में थोड़ी सावधानी बरतनी होगी। स्नैक्स में भुने चने, रोस्टेड मूंगफली, सूखे मेवे या उबली हुई सब्जियां खाएं।

सूर्य से ऊर्जा
उगते हुए सूर्य के प्रकाश में 20 से 30 मिनट बिताने वाले लोगों में ऊर्जा का उच्च स्तर होता है। ध्यान रखने वाली बात यह है कि उगते हुए सूर्य की रोशनी में अल्ट्रा वॉयलेट किरणों का दुष्प्रभाव नहीं होता है इसलिए इसी समय सूरज की रोशनी लेना एनर्जी प्राप्त करने का सही वक्तमाना गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.