…जानिए किस ग्रह के प्रभाव से होता है तलाक और क्या बताए गए हैं इसके उपाय

0 64

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार महिला और पुरुष के बीच तलाक के लिए कुंडली के कुछ ग्रह जिम्मेदार होते हैं। माना जाता है कि रिश्तों के लिए मंगल ग्रह सबसे महत्वपूर्ण है।

आम जीवन में ऐसा सुनने या देखने को मिलता है कि शादी के कुछ ही दिन बाद पति-पत्नी के बीच तलाक हो जाता है। ज्योतिष के जानकार यह मानते हैं कि कुंडली के ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं होने पर ऐसा होता है। कुंडली में कौन से ऐसे योग होते हैं जो पत्नी के बीच तलाक का कारण बनते हैं। साथ ही कुंडली के ऐसे कौन-कौन से योग होते हैं जब शादी चल नहीं पाती है। अगर कुंडली में ऐसे योग हैं तो इसे बेहतर बनाने के लिए ज्योतिष शास्त्र में क्या उपाय बताए गए हैं। इसे जानते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार महिला और पुरुष के बीच तलाक के लिए कुंडली के कुछ ग्रह जिम्मेदार होते हैं। माना जाता है कि रिश्तों के लिए मंगल ग्रह सबसे महत्वपूर्ण है। यदि कुंडली में मंगल खराब है, मंगल की स्थिति ठीक नहीं है तो विवाह के चल पाने में दिक्कतें आती हैं। अगर मंगल की दशा से वैवाहिक जीवन में परेशानी आ रही है तो ऐसे में प्रत्येक मंगलवार को घर में सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए। इसके अलावा मंगलवार के दिन व्रत रखना शुभ माना गया है। ये उपाय उन्हें ही करना चाहिए जिसे लग रहा है कि तलाक नहीं होना चाहिए। ये उपाय थोड़े लंबे समय तक करने से तलाक की संभावना खत्म हो जाती है। जब पति का व्यवहार अच्छा नहीं है, पति पत्नी को मारता है या पति शराब पीकर आता है और कलह करता है, तो ऐसी दशा में शनि-मंगल की दशा मानी जाती है। इस स्थिति में पत्नी को सुबह और शाम लाल रंग के आसन पर बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। साथ ही मंगलवार के दिन हनुमान जी के मंदिर में जाकर हनुमान जी को लाल रंग का फूल चढ़ाना चाहिए। ऐसा करने से पति का अभद्र व्यवहार में सुधार होगा। साथ ही पति-पत्नी के बीच तलाक की स्थिति नहीं बनेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.