मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर बोला हमला, कहा: बदलाव के नाम पर सत्ता में आए थे, सब वादे हुए झूठे

0 69

नई दिल्ली। दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन को लेकर जारी खींचतान पर चुटकी लेते हुए दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा है कि केजरीवाल राजनीति को बदलने आए थे, लेकिन अब वो उसी राजनीति का हिस्सा बनना चाहते हैं जिसका विरोध कर सत्ता पर काबिज हुए। यह बहुत शर्मनाक स्थिति है। दिल्ली की 70 में से 66 सीटें जीतने वाली पार्टी गठबंधन को लेकर कांग्रेस की चिरौरी कर रही है, जबकि उसके पास गठबंधन के लिए लोकसभा में एक भी सांसद नहीं है। अब लोग अरविंद केजरीवाल को समझ चुके हैं और लोकसभा चुनाव में उन्हें तथा उनकी पार्टी को इस बार करारा जवाब देंगे।

यू—टर्न का बादशाह 
भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को यू-टर्न का बादशाह करार देते हुए कहा कि आगामी चुनाव के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन की सत्तारूढ़ पार्टी की बेकरारी से साफ है कि आम आदमी पार्टी चुनाव से पहले ही हार मान चुकी है। कांग्रेस से गठबंधन की बेकरारी से इस बात को समझा जा सकता है। यही वजह है कि गठबंधन को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री ये बयान दिया है कि आप के नेता गठबंधन के लिए कांग्रेस को राजी करने की कोशिश करके थक चुके हैं

कांग्रेस पर फोड़ा ठीकरा 
बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी के चांदनी चौकी पर एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि गठबंधन के लिए हम कांग्रेस से बात कर-करके थक गए हैं लेकिन कांग्रेस ने हमारे साथ गठबंधन नहीं किया। कांग्रेस दिल्ली और उत्तर प्रदेश में भाजपा को जिताना चाहती है। दिल्ली के सीएम ने यह भी कहा कि अगर मुझे ये भरोसा हो जाए कि दिल्ली में भाजपा को कांग्रेस हरा देगी तो मैं सातों सीटें छोड़ दूंगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.