चुंदरु धाम स्थित सुर्य मंदिर का 18 वां वार्षिकोत्सव धुम धाम से मनाया गया

0 129

महोत्सव मे उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

LOK PRAN|टंडवा। प्रसिद्ध चुंदरु धाम की अलौकिक छटाओं मे स्थापित सुर्य मंदिर का 18वां वार्षिक उत्सव समारोह सोमवार को धुम धाम से मनाया गया। निर्धारित कार्यक्रम के अनुशार भगवान सुर्य की अराधना की गई। इस दौरान सैकड़ो श्रद्धालुओं ने महोत्सव मे शामिल हुए। साथ ही विधिवत पूजा अर्चना कर भगवान सुर्य की महाआरती कर अपने सुखमय जीवन की कामना भगवान भास्कर से किया। मंदिर प्रबंधन द्वारा 1008 द्वीप की व्यवस्था की गई। महोत्सव मे आए श्रद्धालुओं ने द्वीप प्रज्जवलित कर पुरे महोत्सव स्थल मे टिमटीमाती दीए की रोशनी से महोत्सव स्थल जगमगा उठा। श्रद्धालुओं ने जलते द्वीप से ओम व स्वास्तिक आदि बनाकर महोत्सव मे चार चांद लगा दिया।पूजा अर्चना के बाद प्रसाद वितरण व मव्य भंडारा का आयोजन किया गया। जंहा महोत्सव मे आए लोगो ने प्रसाद रुपी आशिर्वाद लिया। वहीं आयोजित भंडारा का खुब लुफ्त उठाया। जबकि देर शाम से शुरु हुए स्थानीय कलाकारो द्वारा आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम को देख लोग रात भर रुकने को विवश हो गए। एक ओर जंहा छोटे बड़े स्थानीय कलाकार रात भर श्रद्धालुओं को झुमाए रखा। वहीं दुसरी तरफ चुंदरु धाम की अलौकिक छटाऐं रात मे भी अपनी सुंदरता बिखर रही थी।
हर वर्ष की तरह इस बार भी चुंदरु धाम परिषर को दुधिया रौशनी से जगमगा उठा।पुरे परिषर मे लगे दुधिया रोशनी जंहा महोत्सव स्थल को चार चांद लगा रही थी। वहीं रात मे भी चुंदरु धाम की अलौकिक छटाऐं भी महोत्सव मे आए श्रद्धालुओं को अपनी ओर आकर्षित कर रही थी। जबकि महोत्सव के दौरान भक्ती गीतो व सूर्य वंदना आदि भक्ती गीत श्रद्धालु आनंदित हो रहे थे। महोत्सव को सफल बनाने मे समिति के अध्यक्ष मिथलेश कुमार गुप्ता जय मंगलदेव नायक दिलीप गुप्ता सुरेंद्र नायक मनोज नायक सुभाष चंद्र विराज रजक बासुदेव बंसत विगुल प्रसाद आदि ने अहम योगदान दिया।

महोत्सव के कार्यक्रम

महोत्सव का शुभारंभ तय समय के अनुशार की गई। जिसमे शाम चार से पांच बजे तक पूजा अर्चना, पांच से साढ़े पांच तक हवन, साढ़े पांच से साढ़े छः तक महाआरती पुष्पाअंजली व श्रंगार कार्यक्रम, साढ़े छः से साढ़े सात बजे तक श्रद्धालुओं द्वारा 1008 द्वीप प्रज्जवलन कार्यक्रम, साढ़े सात से प्रसाद वितरण के बाद रात्रि साढ़े आठ बजे से सुबह पांच बजे तक स्थानीय कलाकारो द्वारा भक्ती जागरण कार्यक्रम आयोजित की जाएगी। इधर महोत्सव को लेकर पुरे क्षेत्र मे भक्ती का महौल बना रहा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.