चतरा, गोड्डा, जमशेदपुर को लेकर महागठबंधन उलझा हुआ है, ना-जाने किस पार्टी को मिलेगी यह सीटें

0 89

रांची : झारखंड लोकसभा चुनाव 2019 विपक्षी दलों के महागठबंधन के नेतृत्व में लड़ने की तैयारी है। किंतु महागठबंध में वर्तमान में सीटों को लेकर खींचतान की स्थिति बनी हुई है। इस समय महागठबंधन में गोड्डा, चतरा और जमशेदपुर सीट रोड़ा साबित हो रही है। विदित हो की गोड्डा में झाविमो की दावेदारी है। यहां से झाविमो विधायक दल के नेता प्रदीप यादव चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। दूसरी ओर फुरकान अंसारी के बेटे विधायक डॉ इरफान अंसारी भी गोड्डा सीट की दावेदारी कर रहे हैं। इसे लेकर दिल्ली तक दौड़ लगाने के साथ-साथ जोड़-तोड़ की राजनीति चल रही है। कांगे्रस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी इसके समाधान पर मंत्रणा कर रहे हैं। वहीं चतरा सीट पर राजद और झाविमो दोनों की दावेदारी है। जमशेदपुर सीट में कांगे्रस और जेएमएम दोनों की इच्छा है। सुत्रों के अनुसार जमशेदपुर से कांगे्रस अध्यक्ष डॉ अजय खड़े होना चाहते हैं, किंतु जेएमएम भी अपने उम्मीदवार को वहां से उतारना चाहती है। इसी कारण अबतक सीटों का बंटवारा अब तक नहीं हो पाया है।

गोड्डा में किसकी मजबूत स्थिति सर्वे करा लें : झाविमो : झाविमो के राष्ट्रीय प्रवक्ता योगेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि कोडरमा, गोड्डा और चतरा में पार्टी की मजबूत स्थिति है। यहां से हमारा जीत का दावा है। जिसकी जहां पकड़ा अच्छी है, महागठबंध में उसे ही उस जगह की सीट मिलनी चाहिए। हां गोड्डा के लिए डॉ इरफान दिल्ली में राहुल गांधी से मिलने गए। वहां किसकी स्थिति मजबूत है, सर्वें करा लें।

दोनों में से किसी एक को तो छोड़ना ही होगा : कांगे्रस : कांग्रेस प्रवक्ता लालकिशोर नाथशहदेव ने कहा कि गोड्डा के लिए झाविमो सुप्रीमो भी कह रहे हैं। इधर विधायक डॉ इरफान दिल्ली में आलाकमान से मिलने पहुंच गए। दोनों में से किसी एक को तो पीछे हटना ही होगा।

कार्यकत्ताओं का दबाव तीनों सीट से लड़ें चुनाव : राजद: राष्ट्रीय जनता दलके प्रभारी सह महासचिव आबिद अली ने कहा कि राजद की कोडरमा, चतरा और पलामू में अपनी दावेदारी है। यहां मजबूत स्थिति है। क्षेत्र की जनता व कार्यकत्ताओं का इन तीनों सीटों पर चुनाव लड़ने का भारी दबाव है। आबिद अली ने कहा कि अंतिम निर्णय राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.