बाबूलाल मरांडी से मिले सुबोधकांत, कहा- विपक्षी एकता है मजबूत, महागबंधन में सबका सम्मान

0 112

रांचीः आगामी लोकसभा चुनाव में अडानी पावर प्लांट महागठबंधन के लिए सबसे अहम मुद्दा होगा. इसे लेकर विपक्ष केंद्र और राज्य सरकार को घेरने की कोशिश करेगा. महागठबंधन में सीट शेयरिंग की समस्या को भी जल्द सुलझा लिया जाएगा. जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने यह दावा किया है.

दरअसल, सोमवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय ने जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी से उनके आवास पर मुलाकात की. उनसे वर्तमान में देश और प्रदेश की स्थिति को लेकर चर्चा की. जिसके बाद बाबूलाल मरांडी ने कहा कि देश और झारखंड राज्य में वर्तमान में जो हालात हैं, उसके सुधार के लिए सत्तारूढ़ बीजेपी को उखाड़ फेंकना समय की मांग है. क्योंकि सत्तारूढ़ बीजेपी ने संवैधानिक संस्थानों को भी स्वतंत्र रहने नहीं दिया है. जिससे लोकतंत्र का अर्थ ही खत्म हो जाएगा. बाबूलाल मरांडी ने कहा कि चुनाव से पहले ही अडानी पावर प्लांट से मोटी रकम सरकार ने लेकर गोड्डा में सिर्फ एक फैक्ट्री को स्पेशल इकोनामिक जोन घोषित करने का काम किया है. सरकार को इसके लिए शर्म आनी चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर पूरे झारखंड राज्य को स्पेशल इकोनामिक जोन घोषित करते तो इससे यहां की गरीबी मिटती.

Leave A Reply

Your email address will not be published.