पूर्व मंत्री पर AJSU नेता को पिस्टल से धमकाने का आरोप, एसटी-एससी समेत अन्य धाराओं में FIR दर्ज

0 79

रांची। पूर्व मंत्री योगेंद्र साव एक बार फिर से विवादों में है. योगेंद्र साव के खिलाफ हजारीबाग के बड़कागांव थाना में धमकी देने और एसटी एससी एक्ट के तहत मामला दर्ज कराया गया है. पूर्व मंत्री के खिलाफ नीतू कुमारी के पति कोलेश्वर गंजू ने प्राथमिकी दर्ज कराई है। प्राथमिकी के अनुसार कोलेश्वर 24 जनवरी को अंबा टोली गए थे. वहां से लौटने के क्रम में तीन अपराधियों ने उन्हें रोका. कोलेश्वर ने बताया कि उनमें से एक अपराधी ने हेलमेट पहन रखी थी. जबकि दो ने अपने चेहरे को ढका हुआ था. कोलेश्वर का आरोप है कि तीनों अपराधियों ने उनकी गाड़ी रुकवाई और कमर से पिस्टल निकाल कर कहा कि आजसू पार्टी छोड़कर पूर्व मंत्री का साथ दो, इसी में तुम्हारी भलाई है. साथ ही जातिगत टिप्पणी कर एक खास जाति से जोड़ने का दबाव डाला गया। कोलेश्वर के मुताबिक एक अपराधी ने योगेंद्र साहू को फोन लगाया और फोन को स्पीकर पर लेकर पूर्व मंत्री से बात की. कालेश्वर का आरोप है कि योगेंद्र ने भी फोन पर नहीं समझने पर उड़ा देने की धमकी दी. एफआईआर में आजसू नेता ने लिखा है कि डर कर उसने पूर्व मंत्री को समर्थन देने की बात कही तब जाकर उन्हें अपराधियों ने छोड़ा.
डीएसपी को जांच का जिम्मा
कोलेश्वर के मुताबिक योगेंद्र साव समर्थित झारखंड टाइगर ग्रुप के लोग पूर्व में भी अंबा टोला बाजार से पकड़े गए हैं. ऐसे में उन्हें अपनी जान माल का खतरा है. वहीं, दूसरी तरफ पूरे मामले के जांच का जिम्मा बड़कागांव डीएसपी अनिल कुमार सिंह को दिया गया है. 

Leave A Reply

Your email address will not be published.